अपराधउत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश पुलिस कस्टडी में युवक की मौत जनता में आक्रोश

उत्तर प्रदेश पुलिस कस्टडी में युवक की मौत जनता में आक्रोश

संतकबीरनगर. उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर में बखिरा थाना क्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति की पुलिस अभिरक्षा में मौत हो गई. इस घटना से पुलिस पर सवाल खड़े होने लगे हैं. मौत की जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मच गया. परिजनों ने पुलिस पर पिटाई कर हत्या का आरोप लगाया है.

आपको बता दें कि बखिरा थाना के शिवबखरी निवासी (45 वर्षीय) बहरैची का बेटा गांव की एक लड़की को एक सप्ताह पूर्व लेकर फरार हो गया था. लड़की के पिता की तहरीर पर लड़के के पिता पर पुलिस द्वारा दबाव बनाया जाने लगा. इसके बाद बखिरा पुलिस लड़के के पिता बहरैची को थाने उठा ले आई, जहां पर बहरैची की चोट लगने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई.

मामला गंभीर देख पुलिस ने आनन-फानन में बहरैची को घायल समझकर इलाज के लिए जिला अस्पताल ले गई, यहां पर चिकित्सकों ने बहरैची को मृत घोषित कर दिया. यह पता चलते ही बखिरा पुलिस बॉडी को अस्पताल में छोड़कर फरार हो गई. धीरे-धीरे मामला तूल पकड़ने लगा और कुछ देर बाद इसकी जानकारी एसपी डॉ. कौस्तुभ और डीएम दिव्या मित्तल को हुई.

उन्होंने मामला को गंभीरता से लेते हुए तत्काल जिला अस्पताल पर पहुंचकर घटना की जानकारी लेना शुरू कर दी. इसके बाद वहां पर डीआईजी अनिल कुमार राय भी पहुंच गए और घटना की जानकारी लेते हुए परिजनों से पूछताछ कर बखिरा थाने पहुंचकर घटना स्थल का जायजा लिया. उन्होंने जांच कराकर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है. अब पूरा मामला पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा कि पुलिस की बात में कितना सच्चाई है.

आखिर क्यों तीन दिन तक बैठाई रही पुलिस

बखिरा थाने की पुलिस ने लड़की भगाने के मामले में युवक के पिता को रविवार के 11 बजे सुबह से ही थाने पर बिठाई रही. मंगलवार रात में चोट लगने से संदिग्ध परिस्थितियों में उसकी मौत हो गई. यह मामला लोगों के गले से नीचे नहीं उतर रहा है. उनका सवाल है कि आखिर उसकी मौत कैसे हुई? जब वह पुलिस के अभिरक्षा में था

बखिरा पुलिस ने परिजनों को बताया कि बहरैची को थाने पर सीढ़ी से उतरते समय थोड़ी चोट लग गई है, जो जिला अस्पताल में भर्ती है, जाकर देख लो. जब परिजन अस्पताल पहुंचे तो देखा डेड बॉडी पड़ी है, जिसे बखिरा पुलिस छोड़कर फरार हो गई थी.

मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

मौके पर पहुंचे डीएम दिव्या मित्तल और एसपी डॉ. कौस्तुभ ने बताया कि इस मौत के हर पहलुओं पर जांच शुरू कर दी गई है. इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी.

डॉक्टरों की पैनल करेगा पोस्टमॉर्टम, वीडियो रिकॉर्डिंग भी

घटना की जानकारी होते ही डीआईजी अनिल कुमार राय ने मौके पर पहुंचकर परिजनों से जानकारी प्राप्त किया. उन्होंने परिजनों को आश्वासन दिया है कि इस मामले की निष्पक्ष जांच कराकर जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी. इसके बाद उन्होंने बखिरा थाने पर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया.

पुलिस पर पैसा लेकर हत्या करने का आरोप

बखिरा पुलिस पर हत्या का आरोप लगाते हुए मृतक बहरैची की पत्नी दुर्गावती देवी ने बताया कि रविवार को सुबह ही पुलिस मुझे और मेरे पति को थाने ले गई, लेकिन हमें छोड़ दिया. मेरे पति को थाने में बैठा लिया. उन्होंने कहा कि विपक्षी से पैसा लेकर पुलिस ने मेरे पति को मार डाला.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close