उत्तर प्रदेश

UP- सेल्फी लेने के बहाने पत्नी को दिया वाटरफॉर से धक्का , मौके पर मौत 1महीने पहले हुई थी शादी

सेल्फी लेने के बहाने पत्नी को दिया वाटरफॉर से धक्का , मौके पर मौत 1महीने पहले हुई थी शादी

सोनभद्र. उत्तर प्रदेश के सोनभद्र की रहने वाली नवविवाहिता आशा कुमारी के गुमशुदगी की पहेली को शक्तिनगर पुलिस ने सुलझा लिया. पुलिस के मुताबिक महिला के पति ने ही उसकी हत्या की है. शक्तिनगर पुलिस ने कॉल डिटेल के आधार पर पति और उसके परिजनों को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया. आशा कुमारी के पति ने उसे घूमने के बहाने बुलाकर जलप्रपात में धक्का देकर मौत के घाट उतार दिया. घटना को इतनी सफाई से अंजाम दिया गया कि किसी को कानों कान खबर न लग सकी. पत्नी की हत्या कर पति बड़े आराम से बिहार निकला और अपने घर चला गया.

खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया कि शक्तिनगर के राजकिशन कॉलोनी के  रहने वाले शंकर कुमार ने अपनी बहन आशा कुमारी के गुमशुदा होने सम्बन्धित प्रार्थना पत्र दिया गया था. इसके बाद पुलिस ने तत्काल संज्ञान लेकर मामले की खोजबीन शुरू की. अपर पुलिस अधीक्षक मुख्यालय विनोद कुमार और क्षेत्राधिकारी पिपरी विजय शंकर मिश्र की जांच के दौरान पाया गया कि गुमशुदा आशा देवी का पति संजीत कुमार दिनांक 16 जुलाई को शक्तिनगर आया था और बस स्टैण्ड के पास किसी होटल में रुका था. कड़ाई से पुछताछ करने पर उसके द्वारा बताया गया कि अपनी पत्नी को रसकन्डा जल प्रपात दिखाने के लिए गया था. जहां सेल्फी खींचने के बहाने उसे जल प्रपात में धक्का दे दिया.

गुमशुदा के परिजनों की तहरीर के आधार पर थाना शक्तिनगर मुकदमा दर्ज कर लिया गया. संजीत कुमार, विरेन्द्र राम को  शक्तिनगर बस स्टैण्ड  के पास से गिरफ्तार किया गया. अभियुक्त संजीत कुमार उपरोक्त की निशानदेही पर मृतका आशा देवी का पर्स,आईडी कार्ड को घटना स्थल से बरामद किया गया है. दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. शव की बरामदगी के लिए शक्तिनगर पुलिस  छत्तीसगढ़ पुलिस के साथ मिलकर लगातार  प्रयास कर रही है.

परिवार में कोहराम

वारदात के बाद से महिला के माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है. उन्होंने बताया कि संजीत कुमार ने अपने पत्नी को पहले उसके मायके छोड़कर चला गया. फिर तीन दिनों बाद पत्नी को फोन कर उसे घूमने के लिए जलप्रपात पर बुलाया और सेल्फी लेने के बहाने जलप्रपात पर किनारे ले जाकर धक्का दे दिया जिससे डूबने से उसके पत्नी की मौत हो गई. फिर संजीत वहां से चुपचाप चला गया. जब आशा के विषय में जानकारी लेने के लिए पति संजीत को फोन किया गया तो उसने आशा से मुलाकात होने की बात से इंकार किया.

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close