नोएडा

पोषण माह : स्वस्थ बालक-बालिका पुरस्कृत

मुख्य विकास अधिकारी ने प्रशस्तिपत्र व खिलौने देकर किया उत्साह वर्धन

नोएडा : स्वस्थ बालक-बालिका प्रतिस्पर्धा में विजयी सेहतमंद बच्चों को गांधी जयंती के अवसर पर रविवार को पुरस्कृत किया गया। विकास भवन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी तेज प्रताप मिश्र ने बच्चों को पुरस्कृत किया।इस अवसर पर बच्चों के अभिभावकों को प्रशस्तिपत्र प्रदान किये गये।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ने पोषण का महत्व  बताते हुए कहा बच्चों के शुरुआती जीवन में पोषण पर ध्यान देना बहुत आवश्यक है। हर मां को बच्चों के खान पान का ध्यान रखना चाहिये।

जिला कार्यक्रम अधिकारी पूनम तिवारी ने बताया- सितम्बर माह को पोषण माह के रूप में मनाया गया। इसी क्रम में 22 सितम्बर को जनपद के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों पर स्वस्थ बालक-बालिका प्रतिस्पर्धा हुई थी। इसमें विजयी बच्चों को पुरस्कृत किया गया है। रविवार को आंगनबाड़ी केन्द्र गेझा, सूरजपुर, और मलकपुर के बच्चों को विकास भवन में पुरस्कृत किया गया। शेष बच्चों को स्थानीय आंगनबाड़ी केन्द्रों पर पुरस्कृत किया गया।

पूनम तिवारी ने बताया- स्वस्थ बालक-बालिका चयन के लिए विभिन्न मानकों पर अंक निर्धारित किये गये थे। मासिक वृद्धि निगरानी के लिए पांच अंक। व्यक्तिगत स्वच्छता के तहत साफ हाथ, नाखून कटे होने, पोषण श्रेणी (ऊंचाई लंबाई के सापेक्ष वजन) जो लगातार सामान्य श्रेणी में हो या गंभीर तीव्र अतिकुपोषित (सैम) से मध्यम गंभीर कुपोषित (मैम) या फिर मैम से सामान्य श्रेणी में आए, उसके लिए 10 अंक। इसी प्रकार आहार की स्थिति -शून्य से छह माह तक केवल स्तनपान, छह माह से तीन वर्ष तक प्राप्त होने वाले अनुपूरक पुष्टाहार का नियमित सेवन, तीन से पांच वर्ष के बच्चे (प्राप्त होने वाले अनुपूरक पुष्टाहार) का नियमित सेवन तथा आंगनबाड़ी केंद्र में उपस्थिति के लिए और आयु आधारित टीकाकरण के लिए 10-10 अंक । जबकि डी वार्मिंग के लिए पांच अंक निर्धारित किए गए थे। इन्ही मानकों पर प्रत्येक केंद्र पर स्वस्थ बालक/बालिका का चयन किया गया।

Show More

Related Articles

Close