राष्ट्रीय

शीतलहर को लेकर आया अपडेट, IMD ने बताया कब मिलेगा सर्दी के सितम से छुटकारा

नई दिल्ली. पिछले कुछ दिनों में दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई इलाकों में मौसम ठीक रहा. लोगों को शीतलहर और कड़ाके की ठंड से थोड़ी राहत मिली. लेकिन इस सप्ताह ठिठुरन थोड़ी बढ़ी है. अब शीतलहर (cold wave) को लेकर भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को नया अपडेट दिया है. मौसम विभाग ने कहा है कि शीतलहर की स्थिति 19 जनवरी से कम होने की संभावना है. क्योंकि दो पश्चिमी विक्षोभ (western disturbances) के तेजी से पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र को प्रभावित करने की संभावना है.

IMD के अनुसार पहला पश्चिमी विक्षोभ 18 जनवरी की रात से पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है और दूसरा पश्चिमी विक्षोभ 20 जनवरी की रात से प्रभावित हो सकता है. इसके कारण उत्तर पश्चिम भारत में चल रही शीतलहर के गुरुवार से कम होने की संभावना है. लेकिन इससे पहले मंगलवार सुबह तक उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान में लगभग 2 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है.

मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि 18 जनवरी तक राजस्थान, पंजाब और हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के कुछ हिस्सों में शीतलहर से गंभीर शीतलहर की स्थिति बनी रहेगी. वहीं 17 से 19 जनवरी तक उत्तर प्रदेश और बिहार के अलग-अलग हिस्सों में और 17 और 18 जनवरी को मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और सौराष्ट्र और कच्छ में भी शीतलहर की स्थिति रहने की संभावना है. आईएमडी उस क्षेत्र में शीत लहर की घोषणा करता है जब न्यूनतम तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस या जब यह 4 डिग्री सेल्सियस तक गिर जाता है.

IMD ने कहा कि 16 से 18 जनवरी के दौरान उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में रात और सुबह के दौरान अलग-अलग इलाकों में घने से बहुत घने कोहरे की संभावना है. 16 से 18 जनवरी के दौरान हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के छिटपुट इलाकों में घना कोहरा छाने की संभावना है. वहीं बिहार में 16 से 19 जनवरी के दौरान घटना कोहरा छाया रहेगा. ओडिशा में 16 और 17 तारीख को और असम, मेघालय और त्रिपुरा में 16 से 20 जनवरी को घना कोहरे की संभावना है.

Show More

Related Articles

Close