[ia_covid19 type="table" loop="5" theme="dark" area="IN" title="India"]
Bulandshahr

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर रैली को किया रवाना 

जागरूकता रैली से हुआ संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ 

बुलंदशहर,: जिला अस्पताल प्रागंण से सोमवार को जागरूकता रैली निकालकर संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ किया गया। जनपद में 30 अप्रैल तक संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जाएगा। अभियान के दौरान घर घर जाकर बुखार के मरीज, कुष्ठ रोगी, टीबी रोगी खोजी खोजे जाएंगे और सभी आशाओं द्वारा आभा आई कार्ड बनाए जायेंगे।

सोमवार को जिला अस्पताल प्रांगण में संचारी रोग नियंत्रण अभियान की शुरुआत हुई। आयोजित जागरूकता रैली का शुभारंभ मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनय कुमार सिंह, जिला मलेरिया अधिकारी नज्जार अहमद ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर किया। रैली में पैदल कर्मचारी, टेम्पू, ई-रिक्सा सहित एम्बुलेंस को शामिल कर विभिन्न स्लोगनों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया गया। जिला अस्पताल प्रांगण से मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनय कुमार सिंह, डा हरेंद्र बंसल जिला प्रतिरक्षण अधिकारी, डा रमित सिंह जिला सर्विलांस अधिकारी , डा गौरव सक्सेना नगरिया मलेरिया अधिकारी ने लोगों को संचारी रोगों के प्रति जागरूक किया। रैली जिला अस्पताल प्रांगण से शुरू होकर शहर के मुख्य चौराहे से होते हुए पुनः अस्पताल प्रांगण आकर समाप्त हुई। अभियान में लोगों से विशेष रूप से स्वच्छता अपनाने की अपील की गयी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनय कुमार सिंह ने बताया संचारी रोग नियंत्रण अभियान में स्वास्थ्य विभाग नोडल विभाग के रूप में काम कर रहा है। अभियान से जुड़े अन्य सभी विभाग मिलकर काम करेंगे। ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता समिति की बैठक कर कार्यक्रम के बारे में लोगों को विस्तार से बताएंगे। गाँव में झाड़ियों की सफाई, तालाबों के किनारों की सफाई व अन्य सार्वजानिक स्थलों की सफाई करवाना और गाँव में ऐसे हैण्डपंप जिनका पानी पीने योग्य नहीं है, उन पर लाल निशान लगाकर उन्हें चिन्हित करना तथा लोगों को बताना कि अब इसका पानी उपयोग करने के लायक नहीं है,  ग्राम स्तर पर प्रभात फेरी, ग्रामवासियोँ के साथ साथ साफ सफाई की प्रतिज्ञा, गांव में छोटी-छोटी बैठकें कर लोगों को संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम के बारे में बताने का काम पंचायती राज विभाग का होगा। शिक्षा विभाग स्कूल के बच्चों को जागरूक करेगा।

जिला मलेरिया अधिकारी नज़्जार अहमद ने बताया -अभियान का मुख्य उद्देश्य संचारी रोगों की रोकथाम और जन समुदाय को इसके प्रति जागरूक करना है। इसके माध्यम से वेक्टर नियंत्रण, साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने, शुद्ध पेयजल एवं स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा। ग्राम स्तर पर लोगों में संचारी व वेक्टर जनित रोगों से बचाव के लिए आशा कार्यकर्ता क्लोरीनेशन डेमो देंगी,

अभियान में कई विभाग करेंगे सहयोग

संचारी रोग नियंत्रण अभियान को सफल बनाने के लिए जिले के तमाम विभागों की सामूहिक भागीदारी तय की गई है। इसमें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, नगर विकास विभाग, पंचायती राज विभाग, ग्राम्य विकास विभाग, पशु पालन विभाग, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग,शिक्षा विभाग, कृषि एवं सिचाई विभाग, दिव्यांग जन सशक्तीकरण विभाग, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग प्रमुख हैं। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को नोडल बनाकर सभी विभागों को उनकी ज़िम्मेदारी भी सौंपी गई है।

रिपोर्टर उपेंद्र शर्मा

Show More

Related Articles

Close