अपराध

पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प, दो की मौत

पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प, दो की मौत

गुवाहाटी. असम के दर्रांग जिले में 800 परिवारों के पुनर्वास को लेकर हुए प्रदर्शन के दौरान पुलिस फायरिंग में दो लोगों की मौत हो गई है. प्रदर्शन में हिंसा की वजह से कई पुलिसकर्मी भी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. जानकारी के मुताबिक प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच ये झड़प तब हुई जब एक स्पेशल टीम अतिक्रमण हटवाने गई थी.

दरअसल असम सरकार ने दरांग जिले के ढोलपुर गोरखुटी गांव में अतिक्रमण हटाने का व्यापक अभियान चलाया था जिसमें 800 से ज्यादा परिवार बेघर हो गए हैं. मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया है. उन्होंने कहा है-असम इस वक्त राज्य प्रायोजित आग में जल रहा है. मैं अपने असम के भाई-बहनों के साथ खड़ा हूं.

क्या बोले जिले के एसपी

जिले के एसपी सुशांत बिस्व सरमा का कहना है- प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी की और पुलिसवालों पर हमला कर दिया. उनके पास धारदार हथियार भी मौजूद थे. इस हिंसा में 9 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं. मैं सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो के बारे में जांच करवा रहा हूं.

सरमा ने कहा- पुलिस ने आत्मरक्षा में गोलियां चलाईं. इसमें दो आम नागरिकों की मौत हो गई है. हिंसा में कई पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हैं इनमें अस्टिटेंट सब इंस्पेक्टर मोनिरुद्दीन की स्थिति गंभीर बताई जा रही है. उन्हें गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज शिफ्ट कर दिया गया है. मृतकों की पहचान सद्दाम हुसैन और शेख फरीद के रूप में हुई है.

अतिक्रमण हटाए जाने का काम चलता रहेगा

हालांकि सरमा ने यह भी कहा है कि अतिक्रमण हटाए जाने का काम चलता रहेगा. अब तक 602.04 हेक्टेयर जमीन खाली करवा ली गई है. बीते सात जून को मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने इलाके का दौरा किया था. उन्होंने इलाके को खाली कराने का निर्देश स्थानीय प्रशासन को दिया था जिससे सामुदायिक खेती करवाई जा सके.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close